कोई अच्छी खबर नहीं
कुछ खास नहीं कुछ काम नहीं
किसी भी कुयें में
तुम्हारा अक्स तुम्हारा अयाम नहीं
हर वृक्ष से लटकते हैं मुर्दे लिपटे चादरो में
बदबू है शीतल छाया नहीं
स्थिर है शाम खड़ी लटकाये भुजायें
लटका हुया गले से मध्य से फटे एक चादर का लिबास
उंगलियों के बीच बुनता एक जाला जैसे हो डायन का
खड़ी घात में शाम बुझने को सूरज का आखिरी चिराग
जब लपकेगी ये मुझको लिपटा लेने अपनी उँगलयों के मध्य के जाले में
और लटका देगी मुर्दों के जंगल में
तुम आओगी जब, ढूंढोगी मुझको
सब चादर के बीच पहचानोगी मुझको
टूट पडूंगा मैं खुद ही जैसे पेड़ से टूटा फल
फाड़के चादर फिर मुझको निकालोगी तुम
लेना मुझको बाहों में मत देना आंसू मुझको छुने तुम
रख देना अपने अधर मेरे अधरों पे गर चाहना छूना मुझको तुम
जी उठूँगा मैं फिर से हो जाऊँगा खड़ा
कैसे निकलेंगे जंगल से सोच ना घबराना तुम
पकड़ तुम्हारा हाथ पेड़ की डाल बनेगी अपनी कटार
काट उसी से जाले सब निकलेंगे उस पर हम
जहां खड़ा होगा झरना और उसके पीछे सूरज
दौड़ेंगे चीते हम पर और झपटेंगी चीलें भी
पर हम जूझेगे सबसे और निकलेंगे जीवित भी

————————-

एक खिड़की खोल खडा हूँ
जीवित बाहर अंदर मृत पड़ा हूँ
एक बेल सरकती है
उपर को उठती है
कर स्पर्श मेरे हाथों का
छाती से लिपटती है
कर अधरों पे सिहरन
दे कुछ कम्पन
सर पे आन टपकती है
एक बेल लटकती है

———————-

जाने किस बात पर itna हंस रहा था वो क़ातिल
कत्ल कर रहा था या खुद कत्ल हो रहा था वो क़ातिल

खुद को लुटा दोगे तो जीने का मज़ा आयेगा
राहों में खो जाओगे तो जहां हो वहां होने का मज़ा आयेगा

ख्वाहिशों के समंदर में तैरता चाहतों का मोती है
जिसने देखा था सपना रात में, दिन में वही आंख रोती है

मेहनत से जी चुराओ, आराम में मन लगाओ
गर्मी का मौसम है, आओ बैठो कच्चे आम खाओ

—————————

Hey road. Don’t end just yet.
I wanna keep bicycling a little while more.
Don’t make me take a turn.
A few more calories left for the day to burn.
Hey Road. Don’t go close on me.
Am gonna keep banging on your door till you acquiesce.
Hey road, don’t be a quitter.
Hey road, do you hear me.
Don’t be so huffy puffy.
Hey road, I have been here many times before. …
but never before have I wanted to go cross you.
Hey road, just open up.
Hey road, just hold on still.
Hey road, just fall upside down.
Hey road, I wanna fall down you.
Hey road, I will catch you somewhere in the fall.
Hey road, take a fall, you shall be safe falling along me.
Hey road, if we meet the ground,
with the jaws crushed and tar broken,
we will keep holding hand.
And when the new road is built,
it shall bear our name.
Hey road, lets fall, lets fall, lets fall

—————————-

ये ही हो के रेह गयी है ज़िंदगी अपनी यारों
थोडी ट्रेन में बाकी प्लेटफार्म पे कट रही यारों

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: