मायूस इक आसमां से गुजरता सितारा हूँ
रखो पानी का थाल नीचे उसमें ठहर जाऊंगा

जब भी हंसता हूँ शुबहे उभर आते हूँ
रो लेने के बाद ही दिल को सुकून होता है

प्यार खुद से रंजिशें भी खुद से हीं
खुदा भी मैं बंदा भी मैं कायनात मुझ से ही

होती हसरतें पूरी तो बेहसरत सा हो जाता हूँ
ज़िंदगी गुदगुदाती है तो रुआंसा सा हो उठता हूँ

लिये सौ सूरज निगाह में दौड़ता हूँ ले जलते पैर रेत पे
शाम होने पे ढूंढता हूँ गर कोई तारा टिमटिमाता है

तपिश दिन की है पर जलन बाद शाम के होती है
और सोचता हूँ गर सलवटें रात की चुनीं होती

तेरे होने पे क्या होता ये मुझको नहीं मालूम
तेरे ना होने पे हाँ मैं लेकिन रोज़ रोता हूँ

उदासी है सबब इसका है नहीं ठीक से मालूम
मालूम होता तो भी क्या मैं हंस रहा होता

सब कुछ जान जौऊंगा तो करूंगा क्या मैं ए दोस्त
नासमझ ही रहने दो है समझदारी में क्या रखा

आंसू हैं खुद अपना रास्ता खोज ही लेंगे हम तक
हम उनको बुलाते हैं जो खुद कही रुख इधर का नहीं करते

अब मत हँसाओ की हंसने में बड़ी तक़लीफ़ होती है
तज़ुर्बा ये नया है और अब तज़ुर्बे अच्छे नहीं लगते

———————————-

मेरे बदले लिबासों पे मत जा ए दोस्त
दिल के हालात अब भी फटीचर से है

हाँ ये टी शर्ट का बटन है अभी हाल में टूटा
ये बेसुध लापरवाही है है सीना नहीं धड़का

देखना है तो उंगलियाँ फिरा मेरे कपड़ों के नीचे
सीने के पास रफू किया इक पैबंद मिलेगा

मत चूम इसको मत उधेड़ अभी ताज़ा है ये ज़ख्म
उंगलियों फिरा के मर्ज़ जानने का हुनर है तो और बात है

सह लूंगा तेरी खातिर दर्द ये और यही मेरा प्यार होगा
दूंगा दर्द जो फिर तुझको उसको समेटना तेरा हिसाब होगा

—————————

आज सितारा टूटा है
सारंगी का तार कोई
वृक्ष के तन से जा लिपटा है
आज सितारा टूटा है

आँखों में अंकित विस्तृत आकाश
आगोश में आज आ सिमटा है
आज अंधेरा चमका है

टूटी टूटी ठहरी ठहरी
पानी की जलधार कोई
में आज इक भाटा उट्ठा है
हाँ कोई सवेरा बैठा है
आज सितारा टूटा है

रेतों की बोरी के नीचे
पैर सिकोड़े सिर को पकड़े
कोई सवेरा लुका बैठा है
हाँ आज अंधेरा चमका है

—————————-

खड़ा हूँ
उपर है सुराख आसमानों में
दिखायी कुछ नहीं देता उसमें से
हाथों में सूखता पत्ता
चूर हो जाता उंगलियों की जुम्बिश से
गहराती शाम ठहरी खडी है
टुकड़ों से पनपती एक तस्वीर
मैं लेटा देखता उसको
और शाम ढलती बंद आँखों से
इंतेज़ार में मेरे पहले कदम के

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: